‘टेस्ट क्रिकेट मर रहा है, 5 लाख के लिए कोई भी 5 दिन नहीं खेलेगा’- जानिए पूरी खबर

इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद युवराज सिंह को सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा एक्टिव देखा जा रहा है I युवराज सिंह कई सारे इंटरव्यू में बिना किसी हिचकिचाहट के अपनी राय देते हुए नजर आते हैं। इसी बीच युवराज सिंह ने टेस्ट क्रिकेट के बारे में इंटरव्यू के दौरान एक बारी बात बताई है। इस बयान को हर क्रिकेटर फैंस को सुनना चाहिए।

स्पोर्ट्स 18 के होम ऑफ हीरोज, कार्यक्रम के दौरान बातचीत करते हुए युवराज सिंह ने कहा कि, टी20 और टी10 क्रिकेट का भविष्य है। टेस्ट क्रिकेट अब कमजोर चल रहा है। अब लोग टी20 को ज्यादा देखना पसंद करते हैं और खिलाड़ी भी टी20 क्रिकेट खेलना चाहते हैं। कोई भी क्रिकेटर 5 लाख के लिए पांच दिवसीय क्रिकेट क्यों खेलना चाहेगा। आज खिलाड़ी सब टी20 क्रिकेट खेल कर 50 लाख तक कमा लेते हैं और जो खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी जगह नहीं बना पाए हैं उन्हें भी 7 से 10 करोड़ रुपए मिल रहे हैं।युवराज सिंह ने आगे कहा कि, आप एक टी20 मैच देखते हैं और फिर 50 ओवर का भी मैच देखते हैं। यह अब एक टेस्ट मैच के तरह महसूस होता है कोई भी खिलाड़ी 20 ओवर तक बल्लेबाजी करने के बाद सोचता है कि अभी 30 ओवर पूरा बाकी ही है। इसलिए आपको बता दें कि अभी t20 क्रिकेट सबसे आगे निकलता जा रहा है।

इसके अलावा युवराज सिंह ने फ्लॉप शो के बारे में भी भारतीय टीम के आईसीसी इवेंट्स में खुलकर बातचीत की। युवराज सिंह ने बताया कि मिडिल ऑर्डर में अच्छे बल्लेबाजों की कमी उन महत्वपूर्ण कारणों में से एक है। जिसके कारण भारतीय टीम ने आईसीसी इवेंट्स मैं बहुत संघर्ष करते हुए नजर आए है।

युवराज सिंह ने बोला कि, जब हमने 2011 में वर्ल्ड कप जीता था तब हम सभी बल्लेबाजों के पास बल्लेबाजी करने के लिए एक निर्धारित नंबर था। 2019 के वर्ल्ड कप में हमने यह महसूस किया था कि भारतीय टीम ने इसकी अच्छी तरह से प्लानिंग नहीं की है।