‘मुझे 7 बजे फ्लाइट पकड़नी थी और 11 बजे कॉल आया कि अब तुम टीम में नहीं हो’

चार बार की आईपीएल ट्रॉफी विजेता चेन्नई सुपर किंग्स इस आईपीएल सीजन में 11 मुकाबले खेले हैं. जिसमें सात मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है. आईपीएल का यह सीजन चेन्नई सुपर किंग्स के लिए एक बुरे सपने जैसा है. लेकिन इसका एक प्लस पॉइंट भी है. इस सीजन में सीएसके को कई युवा होनहार खिलाड़ी भी मिले है. इन खिलाड़ियों में से एक है सिमरजीत सिंह. कुछ समय पहले सिमरजीत सिंह अपने मुश्किल दिनों के बारे में याद करते हुए बताया कि कैसे उसे एशिया कप में चयन होने के बाद उन्हें अचानक बाहर का रास्ता दिखा दिया गया.

चेन्नई सुपर किंग्स के यूट्यूब चैनल पर डाले गए वीडियो में सिमरजीत सिंह ने बातचीत के दौरान कहा है कि ”मैं अंडर-19 एशिया कप के लिए चयन हुआ था और हमें एशिया कप खेलने के लिए जाना था. लेकिन एक दिन पहले कॉल आया कि आप एशिया कप नहीं खेल सकते हैं”. इसके पीछे की वजह बताते हुए सिमरजीत सिंह ने कहा कि ”कोई नियम था. जिसके अनुसार जो खिलाड़ी पिछले साल अंडर-19 मैच खेला है. उसे अगले साल टीम का हिस्सा नहीं बनाया जाएगा”.

उसने आगे बताया कि “चयनकर्ताओं ने गलत किया. मुझे अगले दिन 8 बजे फ्लाइट पकड़नी थी और रात में 11 बजे फोन आया कि आप टीम में नहीं हो. जिसके बाद मैं काफी डिप्रेस हो गया था. लेकिन मम्मी पापा ने हिम्मत देते हुए कहा कि पहले साल तुम अंडर-19 के लिए सिलेक्ट हो गए हो यही बहुत बड़ी बात है. मुझे उनके बात से मोटिवेशन मिला और मुझे लगा कि मैं आगे भी किसी और टीम के साथ भारत के लिए खेल सकता हूं.

चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल मेगा ऑक्शन में सिमरजीत सिंह को 20 लाख रुपए देकर टीम का हिस्सा बनाया था. दीपक चाहर के चोटिल होने के बाद उसे प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया था. हालांकि सिमरजीत सिंह ने सीएसके के लिए अभी तक मात्र दो ही मैच खेले हैं जिसमें दो सफलताएं हासिल की है.