12 गेंदों में 5 विकेट: इस भारतीय गेंदबाज ने झटके 8 विकेट, मचाया कोहराम

भारतीय टेस्ट टीम में 10 साल लंबे अंतराल के बाद वापसी करने वाले तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट ने अपनी घरेलू टीम में वापसी करते ही धमाल मचा दिया है। मंगलवार को रणजी ट्रॉफी के एलीट ग्रुप बी में दिल्ली के खिलाफ मुकाबले में उन्होंने कोहराम मचा दिया। उनादकट ने पहली पारी में 12 ओवर में 39 रन देकर 8 विकेट लिए और दिल्ली की पहली पारी में महज 133 रन पर समेट दिया।

पहले दो ओवर में चटकाए 5 विकेट उनादकट ने मैच में इतनी शानदार शुरुआत की कि उन्होंने पहली 12 गेंद में ही पांच रन देकर 5 विकेट अपने नाम कर लिए थे। 5 ओवर में दिल्ली ने महज 10 रन पर 7 विकेट गंवा दिए थे। जिसमें से 6 विकेट उनादकट के खाते में गए थे। दिल्ली का हाल इस कदर बेहाल हो गया कि उसके टॉप 7 में से 5 बल्लेबाज अपना खाता भी नहीं खोल सके।

ऋतिक शौकीन ने शर्मनाक स्कोर से बचाया

ऐसे में मुश्किल में आ खड़ी हुई दिल्ली की पारी को ऑलराउंडर ऋतिक शौकीन ने शिवांक वशिष्ट के साथ मिलकर 100 रन के पार पहुंचाया। 53 रन पर दिल्ली ने 8 विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद शौकीन और विशिष्ट ने नौवें विकेट के लिए 79 रन की साझेदारी की। वशिष्ट को उनादकट ने अपना शिकार बनाकर इस साझेदारी को तोड़ा। उन्होंने 38 रन बनाए। इसके बाद अगली ही गेंद पर कुलदीप यादव को भी चलता कर दिया और दिल्ली की टीम 133 रन पर सिमट गई। शौकीन 90 गेंद में 68 रन बनाकर नाबाद रहे। उन्होंने अपनी पारी में 9 चौके और 3 छक्के जड़े। उनादकट के अलावा चिराग जानी और प्रेरक मांकड ने 1-1 विकेट अपने नाम किया।संबंधित खबरें

यह भी पढ़ें  साल 2022 में क्रिकेट को अलविदा कह गए ये दिग्गज खिलाड़ी, लिस्ट में 2 भारतीय भी शामिल

हार्विक ने जड़ा शतक, सौराष्ट्र ने हासिल की 51 रन की बढ़त

इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरी सौराष्ट्र की टीम ने धमाकेदार शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिए 64 रन जोड़े। हार्विक देसाई ने जय गोहिल(34) के आउट होने के बाद चिराग जानी(44*) के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया और कोई विकेट नहीं गिरने दिया। सौराष्ट्र ने दिन का खेल खत्म होने तक 1 विकेट खोकर 184 रन बना लिए हैं। हार्विक देसाई 124 गेंद में 104 रन बनाकर खेल रहे हैं। सौराष्ट्र ने पहले ही दिन 51 रन की बढ़त हासिल कर ली है।