पंड्या ब्रदर्स का 5 रूपये की मैगी से 500 करोड़ तक का सफर

हार्दिक पंड्या और क्रुणाल पंडया को आज क्रिकेट जगत में कौन नहीं जानता। दोनों भाइयो ने अपनी मेहनत के दम से क्रिकेट जगत में जो नाम कमाया है वो आज भी कई लोगो के लिए एक सपने जैसा हैं।जानिये दोनों भाइयो ने कैसे की अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत

हार्दिक पंड्या और क्रुणाल पंडया जी के पिता जी का नाम हिमांशु पंड्या है जिनका सूरत में एक छोटा सा कार का बिज़नेस था लेकिन अपने बेटो की क्रिकेट में रूचि देखते हुए वो वड़ोदरा शिफ्ट हो गए।

हार्दिक पांड्या ने एक टॉक शो में अपने संघर्षों के माध्यम से अपनी क्रिकेट यात्रा का खुलासा किया।हार्दिक पंड्या ने बताया कि कैसे वह सुबह और शाम के खाने में दो मिनट का नूडल स्नैक मैगी खाता और खेलने के लिए क्रिकेट किट उधार लेता था।

आज के समय में हार्दिक और क्रुणाल पंडया दोनों ही इंडियन क्रिकेट टीम में अपना डेब्यू कर चुके है। जहाँ हार्दिक पंड्या क्रिकेट के तीनो प्रारूपों में टीम क लिए खेल रहे ह वही क्रुणाल पंडया रणजी ट्रॉफी में वड़ोदरा की कप्तानी करते है।

यह भी पढ़ें  'मेरी मम्मी को फोन मिला दो' ड्राईवर ने किया खुलासा, खून से लथपथ पंत ने की थी गुजारिश

देखिये पंड्या ब्रोठेर्स के जीवन से जुडी हुई और तस्वीरें

हार्दिक पंड्या अपनी पत्नी और बेटे क साथ

हार्दिक पंड्या ने अपने आईपीएल की कप्तानी क डेब्यू सीजन में ही अपनी टीम को आईपीएल का चैम्पियन बनाया था।