दुनिया जितने के लिए इसको बनाना होगा कप्तान, इस दिग्गज के बयान ने मचाया तहलका

भारतीय क्रिकेट के एक दिग्गज ने अचानक अपने बड़े बयान से सनसनी और तहलका मचा दिया है. इस दिग्गज के मुताबिक अगर टीम इंडिया को दुनिया जीतनी है, तो उसे एक खतरनाक खिलाड़ी को अपना टी20 कप्तान बना देना चाहिए. दरअसल, भारत के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि अब टीम इंडिया को अपने एक घातक क्रिकेटर को अपना कप्तान बना देना चाहिए. ये खतरनाक और घातक क्रिकेटर और कोई नहीं बल्कि हार्दिक पांड्या हैं. 

जीतनी है दुनिया तो इस खिलाड़ी को बनाओ टीम इंडिया का कप्तान

साल 1990 से 1999 के बीच करीब एक दशक तक दो चरणों में भारतीय टीम की कप्तानी करने वाले मोहम्मद अजहरुद्दीन का मानना है कि नए टी20 कप्तान हार्दिक पांड्या में अच्छी कप्तानी की क्षमता है. मोहम्मद अजहरुद्दीन ने कहा, ‘हार्दिक पांड्या एक कप्तान के रूप में अच्छे दिख रहा है और ऐसा लगता है कि वह टीम को साथ लेकर आगे बढ़ सकता है, लेकिन उन्हें अपनी पीठ के बारे में सावधान रहने की जरूरत है क्योंकि वह इसके कारण लंबे समय तक बाहर रहा है.’

यह भी पढ़ें  12 गेंदों में 5 विकेट: इस भारतीय गेंदबाज ने झटके 8 विकेट, मचाया कोहराम

इस दिग्गज ने अपने बयान से मचाया तहलका

मोहम्मद अजहरुद्दीन ने कहा, ‘भारत को ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की जरूरत होगी और हम चोटों का जोखिम नहीं उठा सकते. हार्दिक पांड्या के पास एक युवा टीम है और यही आगे बढ़ने का रास्ता है. मैच विनिंग कॉम्बिनेशन बनाने के लिए आगामी टी20 सीरीज में मजबूत समन्वय की आवश्यकता होगी.’ भारतीय चयनकर्ताओं ने पिछले कुछ समय में काफी आलोचनाओं का सामना किया है और मोहम्मद अजहरुद्दीन चाहेंगे कि उनके पूर्व साथी और चयन समिति के अध्यक्ष चेतन शर्मा कुछ खिलाड़ियों को लेकर स्थिति स्पष्ट करें ताकि कोई संदेह नहीं हो.

भारतीय खिलाड़ियों के साथ उनके मतभेद

मोहम्मद अजहरुद्दीन ने कहा, ‘निश्चित रूप से, चेतन को कम से कम एक या दो प्रेस कॉन्फ्रेंस करनी चाहिए और बताना चाहिए कि मौजूदा भारतीय टीम के लिए आगे का रास्ता क्या है.’ मोहम्मद अजहरुद्दीन एक साल से अधिक समय से हैदराबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष हैं, लेकिन प्रशासन को लेकर अरशद अयुब और शिवलाल यादव जैसे पूर्व भारतीय खिलाड़ियों के साथ उनके मतभेद रहे.

यह भी पढ़ें  रिषभ पंत ICU में शिफ्ट, PM मोदी ने करी फोन पर बात

बीसीसीआई ने कड़ी मेहनत को पहचाना

पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, ‘यह अब तक अच्छा रहा है. हम हैदराबाद क्रिकेट संघ की खोई हुई प्रतिष्ठा बहाल करने के लिए लड़ रहे हैं. हमने स्टेडियम के साथ-साथ ड्रेसिंग रूम में भी (नवीकरण के मामले में) बहुत काम किया है. जब मैंने कार्यभार संभाला तो यह सब दयनीय स्थिति में था. हम तीन महीने में अपने दूसरे अंतरराष्ट्रीय मैच (भारत बनाम न्यूजीलैंड) की मेजबानी करेंगे. हम बहुत खुश हैं कि बीसीसीआई ने हमारी कड़ी मेहनत को पहचाना है और हमें मैच आवंटित किए जा रहे हैं.’